Wednesday , February 28 2024

Indian Railways Essay in Hindi

भारतीय रेलवे पर निबंध:-‘Indian Railways’ Essay in Hindi language-परिवहन किसी भी देश के किसी भी आर्थिक, संस्कृति, सामाजिक और औद्योगिक विकास की रीढ़ होता है। परिवहन एक स्थान से दूसरे स्थान पर मानव,पशु और माल की आवाजाही में बहुत महत्वपूर्ण योगदान निभाता है।

आजकल हम परिवहन के लिए बहुत से तरीकों का उपयोग कर रहे हैं जैसे हवा, जमीन, पानी आदि। परिवहन में सड़क, वायुमार्ग, रेलवे, पानी, नहरों सहित स्थापना के बुनियादी ढांचे का पता लगाया जाता है। भारतीय रेलवे को दुनिया के सबसे बड़े नेटवर्क में से एक माना जाता है।

भारतीय ट्रेन, यहां भारत के लोगों के लिए जीवन का अहम हिस्सा है इसका महत्व यहां के लोगों के लिए अत्याधिक माना गया है करीब 2.50 करोड़ लोग प्रतिदिन भारतीय रेलवे का इस्तेमाल करते हैं। भारतीय रेलवे केंद्र सरकार की स्वामित्व वाला सार्वजनिक क्षेत्र का उधम है।

भारतीय रेलवे का इतिहास

लार्ड इलहौज को भारतीय रेलवे के पिता के रूप में जाना जाता है। भारतीय रेलवे की स्थापना 16 अप्रैल 1853 को हुई थी। भारतीय रेलवे का मुख्यालय नई दिल्ली में हैं। जॉन मथाई ने स्वतंत्र भारत के लिए पहला रेल बजट नवंबर 1947 में पेश किया था।भारत में ट्रेन का इतिहास 168 साल से भी ज्यादा पुराना है।

भारतीय रेल का राष्ट्रीयकरण 1950 में हुआ था। भारत मे  सर्वप्रथम रेलवे का शुभारंभ 16 अप्रैल 1853 को बोरीबंदर मुंबई से ठाणे के बीच 33.7 किलोमीटर की यात्रा के लिए चलाया गया था और 400 यात्रियों सवार थे जिन्हें लेकर ब्रॉड गेज  ट्रैक पर दौड़ी थी l यह रेल इंजन स्टीम इंजन था l

दिलचस्प बात यह है कि इस दिन को सार्वजनिक अवकाश भी घोषित किया गया था l सर आर्थर काटन को ट्रेन के निर्माण का श्रेय दिया गया था l जिसका उपयोग मुख्य रूप से ग्रेनाइट के परिवहन के लिए किया जाता था l

भारतीय रेलवे विश्व में चौथा सबसे बड़ा नेटवर्क संचालित करता है जिसका देश भर में 1.2 लाख किलोमीटर से अधिक का विस्तार है l आज लगभग 14 लाख से अधिक कर्मचारी भारतीय रेलवे के साथ कार्यरत है।

भारत रेलवे जनता को तीन तरह की सेवाएं प्रदान करती करती है एक्सप्रेस ट्रेन, मेल एक्सप्रेस ट्रेन और पैसेंजर ट्रेन ,पैसेंजर ट्रेन इंडियन ट्रेन का किराया सबसे कम है और मेल एक्सप्रेस ट्रेन का किराया सबसे ज्यादा जबकि एक्सप्रेस मध्यम किराया वाली ट्रैन होती है। रेलवे अपने आप में ही एक बड़ा यातायात नेटवर्क है। भारतीय रेलवे नेटवर्क इतना बड़ा है कि पटेरिया से पृथ्वी को एक बार घेरा जा सकता है देश में कुल 7,500 स्टेशन है।

भारत का रेल नेटवर्क 65,000 किलोमीटर लंबा है जिससे भारतीय रेलवे संचालित करती हैं जो सरकार के अधीन हैं 2013 में भारतीय रेलवे ने करीब 8 अरब यात्रियों को सेवाएं दी हैं। जो दुनिया में सबसे अधिक है वहीं दूसरी ओर माल दुलाई के मालमेल में भारत करीब 1.01 मिलियन टर्न के साथ दुनिया में चौथा स्थान पर है।

भारतीय रेलवे का महत्व-

भारत में रेलवे माल और यात्रियों के लिए परिवहन का प्रमुख साधन प्रदान करता है। यह लोगों को दूर से दर्शनीय स्थानों की यात्रा,तीर्थ यात्रा और शिक्षा प्रदान करता है। भारतीय रेलवे पहले 100 वर्ष के दौरान एक महान शक्ति है।

यह देश का सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला और लागत प्रभावी लंबी दूरी की परिवहन प्रणाली है। यह भारतीय रेल मंत्री द्वारा संचालित किया जाता है। देखा जाए तो भाप इंजन से डीजल के इंजन और फिर बिजली के इंजन तक का इसका सफर शानदार रहा है। देश के विकास में रेलवे का बहुत महत्वपूर्ण योगदान है।

रेल परिवहन सड़क परिवहन की तुलना में काफी किफायती है। सड़क परिवहन की तुलना में इसमें 6 गुना कम ऊर्जा खर्च होती है और 4 गुना अधिक किफायती है। परिवहन के प्रदूषण में भी रेलवे का योगदान कम होता है। रेलवे के निर्माण की लागत भी अन्य यातायात से लगभग 6 गुना कम  बैठती है।

रेल परिवहन द्वारा कृषि एवं उद्योग क्षेत्र के विकास एवं विस्तार मे सहायता मिलती है, क्योंकि यह कच्चे माल, मशीनरी, तैयार माल, श्रमिक एवं इंधन के व्यापक संचलन को संभव बनाता है तथा बाजार के एकीकरण में सहायता करता है। रेलवे द्वारा संख्या एवं अन्य आपदाओं से ग्रस्त क्षेत्रों में अनिवार्य वस्तुओं की त्वरित आपूर्ति की जाती है।

भारत में रेल न केवल देश की परिवहन सम्बन्धी आवश्यकताओं को पूरा करती है।बल्कि देश को एक सूत्र में बाँधने एवं राष्ट्र के एकीकरण में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है ।

भारतीय अर्थव्यवस्था की प्रगति में भारतीय रेल का प्रमुख योगदान रहा है। देश में विभिन्न वस्तुओं की धुलाई एवं यात्री परिवहन का प्रमुख साधन रेल ही है। इसलिए भारत सरकार भी एक अलग अर्धसैनिक बल आर.पी.एफ की स्थापना की इनका मुख्य कार्य रेलवे की संपत्ति और यात्रियों की सुरक्षा करना है।

बाढ़,भूकंप सामूहिक तूफान रेलवे लोगों को यथा संभव सहायता प्रदान करती है। रेलवे में समाज के सभी वर्गों के लिए सुविधा प्रधान करती है।

अंग्रेजी काल में चालू हुई रेलवे सर्विस आज वर्तमान के टाइम में इंडिया सर्विस दुनिया में दूसरे नंबर की सबसे बड़ी रेलवे सर्विस मानी जाती है। भारतीय रेलवे सिर्फ आवागमन का साधन नहीं है बल्कि भारत में तकरीबन 15 लाख से अधिक लोगों को रेलवे रोजगार उपलब्ध करवाया है।

Must read :-

Buy Train Ticket With QR Scan :-पेटीएम से कटेंगे टिकट

IRCTC Heaven on Earth Tour Package

How To Get Duplicate Train Ticket

भारतीय रेलवे में लाखों लोग रिटायर होते हैं और नए लोग की भर्ती भी होती है। इंडियन रेलवे में आठवीं पास और 10वीं पास के लिए भी विभिन्न नौकरियां मौजूद हैं।भारत में वर्तमान में 17 रेलवे जोन 73 रेलवे मंडल हैं।‌ देश के व्यापार और अर्थव्यवस्था में रेलवे एक भरोसेमंद साथी की भूमिका अदा करता है।

देश के कुल माल परिवहन का लगभग 40 प्रतिशत भाग रेलवे का है। किसी बड़ी दुर्घटना के समय भी रेलवे द्वारा परिवहन भोजन चिकित्सा की सुविधा उपलब्ध करा कर लोगों को सुरक्षा का अनुभव करती है। भारतीय रेलवे अपने पैसेंजर को उनकी सहूलियत और बजट के हिसाब से सफर करने का अवसर देती है।

Check Also

How To Create IRCTC Account in Hindi

How To Create IRCTC Account in Hindi

भारत में हर किसी ने कभी न कभी भारतीय रेलवे का सफर जरूर किया होगा …

Leave a Reply