Wednesday , February 28 2024

Cattle Feed Making Business Idea Hindi

पशु आहार निर्माण बिज़नेस-हम सभी जानते है की भारत पशु धन से परिपूर्ण भूमि है।  हमारे यहाँ जीवन यापन व् व्यवसाय के लिए पशु धन पाला जाता है। भारत में अधिकतर ऐसे पशु पाले जाते है जिनसे दुग्ध उत्पादन किया जा सके।

पशुओं के अच्छे विकास और दुग्ध क्षमता को बढ़ाने के लिए अच्छे किस्म के पशु आहार की आवश्यकता होती है। बाजार में आजकल अनेक प्रकार के पशु आहार उपलब्ध है जो की पशुओं के लिए उपयुक्त है। बाजार में पशु आहार की बढ़ती हुई मांग को देखते हुए अनेक कंपनियों ने पशु आहार निर्माण का बिज़नेस शुरू कर दिया है। आज के इस लेख में इसी विषय में बात करने जा रहे है की पशु आहार बिज़नेस कैसे किया जाएं।

पशु आहार निर्माण बिज़नेस क्या है ?(What is Cattle Feed Making Business)

भारत में अधिकतर पशु डेरी फार्मिंग और मिल्क सप्लाई के लिए पाले जाते है।  इन पशुओं को आहार के लिए प्राकृतिक चाराग्रह में चरने के लिए छोड़ दिया जाता है। ऐसी स्थिति में यह पशु हरा चारा खा कर अपनी दैनिक आहार आवश्यकता को पूरा करते  है।

पशु जब अकेला हरा चारा खाते है तो उनकी पोषण सम्बन्धी आवश्यकता पूरी नहीं होती है जिससे की वह अधिक मात्रा में दुग्ध उत्पादन नहीं कर पाते है।

पशुओं में दूध उत्पादन की मात्रा बढ़ाने के लिए ही पशु आहार की शुरुआत की गई है। इस पशु आहार में पशुओं को हरे चारे के अतिरिक्त  कंसन्ट्रेट फ़ूड भी  खिलाया जाता है। कंसन्ट्रेट फ़ूड के सेवन से पशुओं के दूध की मात्रा आसानी से बढ़ाई जा सकती है। पशुओं के लिए बड़े स्तर पर कंसन्ट्रेट फ़ूड का निर्माण करना ही  पशु आहार निर्माण बिज़नेस कहलाता है। वर्तमान समय में अनेक बड़ी बड़ी कंपनियां पशु आहार निर्माण का बिज़नेस करके मुनाफा कमा रही है। 

How to Start Cattle Feed Making Business?

पशु आहार निर्माण बिज़नेस की लोकप्रियता वर्तमान समय में दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। बढ़ती हुई लोकप्रियता के कारन अब अधिक से अधिक लोग पशु आहार निर्माण बिज़नेस में अपना हाथ आजमा रहे है। पशु निर्माण आहार का बिज़नेस शुरू करते समय कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए जिससे की इस बिज़नेस में अधिक से अधिक मुनाफा कमाया जा सके।

पशु आहार निर्माण बिज़नेस शुरू करते समय इन बातों का ध्यान रखना चाहिए –

  • उचित भूमि का प्रबंध

पशु आहार निर्माण बिज़नेस एक बड़े बिज़नेस मॉडल में से एक है। इसे संचालित करने के लिए उपयुक्त जमीन , मशीन , उपकरण और श्रमिक की आवश्यकता होती है। इन सभी के आवश्यक है की एक अच्छी जमीन उपलब्ध हो जिस पर पशु आहार निर्माण बिज़नेस शुरू किया जा सके।

जमीन का चुआव करते समय इस बात का विशेष ध्यान रखे की जमीन का आकार आपके व्यवसाय के लिए उपयुक्त हो। जमीन इतनी बड़ी हो जिसमे आसानी से मशीन व् उपकरण लगाए जा सके और श्रमिकों के काम करने हेतु भी पर्याप्त स्थान हो।

  • लाइसेंस एवं आवश्यक पंजीकरण

 पशु आहार निर्माण बिजनेस एक कृषि संबंधित बिजनेस है।  इसको संचालित करने हेतु किसी भी आवश्यक लाइसेंस या पंजीकरण की आवश्यकता नहीं होती है। यदि कोई व्यक्ति इस बिजनेस को बड़े पैमाने पर करता है तो इसको संचालित करने के लिए आवश्यक लाइसेंस व पंजीकरण की आवश्यकता पड़ती है। 

बिजनेस शुरू करने से पहले सरकार द्वारा प्रदान किए जाने वाले पंजीकरण व लाइसेंस अवश्य बनवा लेने चाहिए। जिससे कि भविष्य में कोई परेशानी ना हो। पशु आहार निर्माण बिजनेस से संबंधित लाइसेंस व् पंजीकरण हैं जीएसटी लाइसेंस , ट्रेड लाइसेंस  , फसाई लाइसेंस , NOC  आदि। इन लाइसेंस को बनवाने के बाद पशु आहार निर्माण बिजनेस में  सरकार द्वारा मिलने वाले मुनाफे का भी लाभ आसानी से उठाया जा सकता है

  • मशीनरी व्  कच्चे माल का चुनाव

पशु निर्माण आहार बिजनेस में सबसे आवश्यक तत्व कच्चा माल व्  मशीनरी होता है। कोई भी  व्यक्ति यदि पशु आहार निर्माण का बिजनेस शुरू करने जा रहा है तो उसे अपने बिजनेस को शुरू करने से पहले कच्चे माल और मशीनरी की व्यवस्था कर लेनी चाहिए।  कच्चे माल और मशीनरी का चुनाव करने से पहले बाजार का अच्छे से विश्लेषण कर लेना चाहिए जहां उचित दर पर कच्चा माल व्  मशीनरी उपलब्ध हो वहीं से खरीदनी चाहिए। जिससे कि कम लागत में अधिक मुनाफा कमाया जा सके।

  • पशु आहार निर्माण का आवश्यक ज्ञान

पशु आहार निर्माण का बिज़नेस शुरू करने से पहले आपको पशु आहार का निर्माण किस प्रकार किया जाना है उसका उचित ज्ञान होना चाहिए। यदि आपको इससे संबंधित आवश्यक ज्ञान नहीं है , तो आप सरकार द्वारा चलाये जा रहे ट्रेनिंग सेंटर में इसका उपयुक्त ज्ञान ले सकते है।  पर्याप्त ज्ञान लेने के बाद आप अपना पशु आहार बिज़नेस शुरू कर सकते है।

  • कुशल श्रमिकों का चुनाव

पशु आहार निर्माण का बिज़नेस शुरू करने का लिए आपको श्रमिकों की आवश्यकता होगी है। आप अपने बिज़नेस के लिए कुशल श्रमिकों का चुनाव करें। आप जिन भी श्रमिकों का चुनाव करें उन्हें मशीनरी और उत्पाद निर्माण के बारे में उपयुक्त ज्ञान हो।

Raw Material Required for Cattle Feed Making Business

पशु आहार निर्माण का बिज़नेस शुरू करने में सबसे महत्वपूर्ण तत्व है उसमे उपयोग किया जाने वाला कच्चा माल।  पशु आहार निर्माण के बिज़नेस में अनेक प्रकार का कच्चा माल उपयोग में लाया जाता है जैसे –

  • चना की भूसी
  • गेंहू का ऊपरी छिलका
  • चोकर व् खलिया
  • दाल की भूसी
  • मक्का
  • चावल का चोकर
  • खली
  • भुट्टे के डंठल
  • गुड़
  • नमक

संतुलित पशु आहार बनाने की विधि | Balanced Food For Cow and Buffalos

मिश्रण कुछ इस प्रकार का होगा -100kg

नमक1 किलोग्राम
जौ30 किलोग्राम
गेहूं की चोकर20 किलोग्राम
सरसों की खल25 किलोग्राम
बिनौले की खल22 किलोग्राम
खनिज मिश्रण2 किलोग्राम

Machines Required for Cattle Feed Making Business

पशु आहार निर्माण का बिज़नेस शुरू करने के लिए कच्चे माल के अतिरिक्त मशीन की भी आवश्यकता है। उपयुक्त मशीन के बिना पशु आहार निर्माण का बिज़नेस नहीं किया जा सकता है। पशु आहार निर्माण का बिज़नेस शुरू करने के लिए आवश्यक मशीन इस प्रकार है –

  • चारा पीसने की मशीन ( Feed Grinder Machine )
  • मिक्सिंग मशीन ( Cattle Feed Machine )
  • आहार तोलने की मशीन ( Feed Weight Machine )
  • पैकिंग मशीन ( Feed Packing Machine )

पशु आहार बनाने की मशीन Price-

Cattle feed plant Price-on india mart-cattle feed plant लगाने  के लिए आपके पास कई तरह के विकल्प बाजार में है जानते है –

Cattle Feed Plant, 200 kg per hr-

  • क्षमता: 200 किलोग्राम प्रति घंटा
  • मोटर पावर: 5 एचपी
  • सामग्री: हल्का स्टील
  • ब्लेडों की संख्या: 32
  • ऑटोमेशन  ग्रेड : सेमि  आटोमेटिक
  • ब्रांड: Rising
  • कीमत -₹ 85000/-

Semi-Automatic Cattle Feed Plant, 100-120 kg per hr

  • क्षमता : 100-120 kg per hr
  • मोटर पावर : 15 hp
  • वेट : 500 kg
  • फेज : 3 Phase
  • ऑटोमेशन  ग्रेड : सेमि  आटोमेटिक
  • ब्रांड : PVG
  • कीमत -₹ 3.01 लाख

4-6 TPH Automatic Mash Feed Plant

  • क्षमता : 5 tph
  • मोटर पावर : 40 hp
  • ऑटोमेशन  ग्रेड : आटोमेटिक
  • ब्रांड : Lark
  • कीमत -₹ 15 लाख

Cattle Feed Machine Plant

  • क्षमता : 2000 to 10000 kg/hr
  • पावर : 80-200 kW
  • फेज : 3 Phase
  • ब्रांड : metal tech Engg.
  • कीमत -₹ 95 लाख

पशु आहार बिज़नेस की लागत (Cost of Cattle Feed Making Business)

पशु आहार निर्माण बिज़नेस कृषि से जुड़ा हुआ एक ऐसा व्यवसाय है जिसे बड़े स्तर पर भी किया जा सकता है और छोटे स्तर पर भी किया जा सकता है। इस बिज़नेस में आने वाली लागत की बात करें तो बिज़नेस की लागत बिज़नेस के स्तर अनुसार तय होती है। पशु आहार निर्माण बिज़नेस के लिए आने वाला मुख्य खर्च जमीन , मशीन व् रॉ मटेरियल को खरीदने में आता है।

पशु आहार निर्माण का बिज़नेस यदि छोटे स्तर पर शुरू किया जाता है तो इसमें करीब 3 से 4 लाख रूपए तक का खर्च आता है। वही अगर इस बिज़नेस को बड़े स्तर पर शुरू किया जाए तो 7 से 10 लाख रूपए तक का खर्च आता है।


Small scale business ideas


पशु आहार बिज़नेस के लिए लोन की सुविधा (Loan Facility for Cattle Feed Making Business)

ग्रामीण क्षेत्रों में पशु आहार बिज़नेस को शुरू करने के लिए भारत सरकार अनेक प्रकार की सहायता प्रदान करती है। भारत सरकार द्वारा दी जाने वाली अनेक सहायता में से एक है लोन की सुविधा। यदि कोई छोटा किसान या व्यवसायी छोटे स्तर पर पशु आहार निर्माण का बिज़नेस शुरू करना चाहता है तो उसे सरकार द्वारा लोन की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाती है। सरकार यह लोन मुद्रा लोन योजना के तहत प्रदान करती है।

यह लोन प्राप्त करने के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेज की आवश्यकता होती है जैसे की – व्यवसाय की रिपोर्ट , आधार कार्ड , पैन कार्ड , निवास प्रमाण पत्र , आय प्रमाण पत्र  आदि |

How Much Earn from Cattle Feed Making Business?

पशु आहार निर्माण बिज़नेस से कितना कमा सकते है ?

वर्तमान समय में पशु आहार निर्माण बिज़नेस एक मुनाफे वाला बिज़नेस है। बाजार में पशु निर्माण आहार की बढ़ती हुई से मांग के कारन इस बिज़नेस की लोकप्रियता और अधिक बढ़ती जा रही है। इस बिज़नेस के माध्यम से कुछ व्यवसायी बहुत अच्छा पैसा कमा रहे है। 10 लाख तक के इन्वेस्टमेंट वाले पशु आहार बिज़नेस से प्रति माह 1  से 2 लाख तक का मुनाफा होता है। वही 3 से 4 लाख तक के इन्वेस्टमेंट वाले पशु आहार बिज़नेस में 50 से 80 हज़ार रूपए का मुनाफा प्रतिमाह होता है।

क्या पशु चारा निर्माण बिज़नेस में रिस्क है ?

पशु चारा निर्माण बिज़नेस एक मुनाफे वाला बिज़नेस है। इस  बिज़नेस में किसी प्रकार का कोई खास रिस्क नहीं रहता है। आजकल लोग अधिक दूध उत्पादन के लिए अपने पशु को स्पेशल पशु चारा खिलाते है जिससे की इस बिज़नेस की डिमांड अधिक बढ़ती जा रही है। इस वजह से इस बिज़नेस में अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है।

इस बिज़नेस के माध्यम से बनने वाले उत्पाद की क्वालिटी सबसे ज्यादा महत्व रखती है इसलिए आपको क्वालिटी पर विशेष ध्यान देना होगा जिससे की आपको किसी प्रकार का कोई नुक्सान न हो। 


Latest Posts


Best Cattle Feed Companies In India

  • Bharat Industries.
  • Anfotal Nutritions Pvt. Ltd.
  • AB Vista South Asia.
  • The Godrej Agrovet
  • Kamdhenu Limited
  • Vishal exports Limited
  • Venkateshwara Hatcheries
  • Cargill India
  • Vaster Life Science
  • HA Trading Company.
  • Pranav agro
  • SARDAR Cattle Feed.
  • Maharashtra Feeds Pvt. Ltd.
  • Special Cattle Feed.
  • Gauri Shankar Cattle Feed.

FAQs-

पशुचारा बनाना क्यों महत्वपूर्ण है?

मवेशियों के स्वास्थ्य और उत्पादकता के लिए उचित पोषण आवश्यक है। अच्छी तरह से संतुलित आहार यह सुनिश्चित करता है कि जानवरों को विकास, दूध उत्पादन और समग्र कल्याण के लिए आवश्यक पोषक तत्व, विटामिन और खनिज प्राप्त हों।

पशुओं के चारे में उपयोग की जाने वाली प्रमुख सामग्रियां क्या हैं?

सामान्य सामग्रियों में मक्का, सोयाबीन भोजन, गेहूं की भूसी, चावल की भूसी, ज्वार, जई और विभिन्न तिलहन भोजन शामिल हैं। इसके अतिरिक्त, विशिष्ट पोषण संबंधी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए विटामिन, खनिज और योजक जोड़े जा सकते हैं।

क्या पशुचारा उत्पादन एक लाभदायक व्यवसाय है?

हां, पशुधन चारे की निरंतर मांग के कारण पशुचारा उत्पादन लाभदायक हो सकता है। लाभप्रदता कुशल संचालन, लागत प्रभावी सामग्री की सोर्सिंग और एक विश्वसनीय ग्राहक आधार स्थापित करने जैसे कारकों पर निर्भर करती है।

क्या मुझे यह व्यवसाय शुरू करने के लिए किसी विशेष कौशल या ज्ञान की आवश्यकता है?

हालाँकि मवेशियों के पोषण का विशिष्ट ज्ञान लाभप्रद है, लेकिन यह अनिवार्य नहीं है। पशु पोषण, चारा फॉर्मूलेशन और उत्पादन प्रक्रियाओं पर बुनियादी समझ और शोध सहायक होगा। एक सफल उद्यम चलाने के लिए उद्यमशीलता और प्रबंधकीय कौशल भी महत्वपूर्ण हैं।

पशु चारा उत्पादन इकाई स्थापित करने के लिए किस उपकरण की आवश्यकता होती है?

उपकरण में फ़ीड ग्राइंडर, मिक्सर, पेलेटाइज़र, कन्वेयर, बैगिंग मशीन और भंडारण सुविधाएं शामिल हो सकती हैं। ऑपरेशन का पैमाना आवश्यक मशीनरी के आकार और जटिलता को निर्धारित करेगा।

Check Also

Handmade Jewellery Business in Hindi

Handmade Jewellery Business in Hindi

हाथ से बने गहनों का व्यापार ( Handmade Jewellery Business )-आज का समय फैशन का …

Leave a Reply