Wednesday , February 28 2024

Mobile Banking Kya Hai

मोबाइल बैंकिंग के आने से वित्त (फाइनेंस ) की दुनिया को नया आकार दिया गया है, एक तकनीकी है जिसने हमारे पैसे का प्रबंधन करने के तरीके में क्रांति ला दी है। इसके महत्व को पूरी तरह से समझने के लिए, हमें पहले Mobile Banking Kya Hai जानना होगा , इसकी जरूरत को समझाना होगा, कैसे काम करता है, इसके फ़ायदे सब जानते हैं

मोबाइल बैंकिंग क्या है? (What is Mobile Banking)

मोबाइल बैंकिंग , बैंकिंग सिस्टम का एक डिजिटल संस्करण है। मोबाइल बैंकिंग बैंक द्वारा दी जानी वाली एक विशेष सुविधा है। इसके जरिये कस्टमर्स को बैंकिंग से जुडी सुविधाएं फ़ोन पर ही प्राप्त हो जाती है। कोई भी कस्टमर अपने बैंक को फ़ोन के द्वारा ही संचालित कर सकता है , उसे बैंक जाने की आवश्यकता नहीं होगी।

वर्तमान समय में मोबाइल बैंकिंग की सुविधा बहुत प्रचलित है और यह अधिकतर बैंको द्वारा दी जा रही है। इस सुविधा के जरिये बैलेंस चेक , कैश ट्रांसफर , बिल पेमेंट आदि जैसे कार्य आसानी से किये जा सकते है।


मोबाइल बैंकिंग का उदय-

मोबाइल बैंकिंग का उद्भव और तेजी से अपनाया जाना बैंकिंग उद्योग के विकास में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर दर्शाता है। इसने बैंकिंग सेक्टर में गहन बदलाव का काम किया है। जिसे हम सोच भी नहीं सकते।जानते हैं क्या करक हैं-

टेक्नोलॉजिकल प्रगति:

उन्नत क्षमताओं वाले स्मार्टफोन के प्रसार ने मोबाइल बैंकिंग को बड़ी आबादी के लिए सुलभ बना दिया है।
हाई-स्पीड मोबाइल इंटरनेट और 4जी/5जी नेटवर्क के आगमन ने निर्बाध और वास्तविक समय में बैंकिंग लेनदेन की सुविधा प्रदान की है।

उपभोक्ता व्यवहार में बदलाब :

तेजी से, उपभोक्ता वित्तीय (बैंकिंग) मामलों को अपनी हथेली से संभालने की सुविधा पसंद कर रहे हैं।
मोबाइल बैंकिंग आज के ग्राहकों की व्यस्त, चलती-फिरती जीवनशैली के अनुरूप है, जो बैंकिंग सेवाओं तक 24/7 पहुंच प्रदान करती है।

उच्च सुरक्षा उपाय:

बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण (जैसे, फिंगरप्रिंट और चेहरे की पहचान) सहित बेहतर सुरक्षा प्रोटोकॉल ने मोबाइल बैंकिंग में विश्वास बढ़ाया है। उपयोगकर्ताओं की वित्तीय जानकारी को सुरक्षित रखने के लिए बैंकों ने एन्क्रिप्शन और डेटा सुरक्षा में भारी निवेश किया है।

वित्तीय समावेशन:

मोबाइल बैंकिंग ने विशेष रूप से विकासशील देशों में वंचित और बैंक रहित आबादी तक वित्तीय सेवाएं पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। यह लोगों को बचत करने, धन हस्तांतरित करने और क्रेडिट तक पहुंचने का एक किफायती और सुलभ साधन प्रदान करता है।

बैंकों के लिए लागत-दक्षता:

मोबाइल बैंकिंग से जुड़ी परिचालन लागत कम होने से बैंकों को लाभ होता है, क्योंकि इससे भौतिक शाखाओं और कागज-आधारित लेनदेन की आवश्यकता कम हो जाती है।

ग्राहक-केंद्रित अनुभव:

मोबाइल बैंकिंग ऐप्स उपयोगकर्ता के अनुकूल इंटरफेस के साथ डिज़ाइन किए गए हैं, जो एक सहज और सहज बैंकिंग अनुभव प्रदान करते हैं। वास्तविक समय की सूचनाएं और वैयक्तिकृत वित्तीय अंतर्दृष्टि जैसी सुविधाएं ग्राहक जुड़ाव को बढ़ाती हैं।

प्रतिस्पर्धा :-

वित्तीय संस्थानों के बीच प्रतिस्पर्धा ने मोबाइल बैंकिंग ऐप्स में निरंतर नवाचार को जन्म दिया है, जिसमें पी2पी भुगतान, निवेश उपकरण और बजट सहायता जैसी अतिरिक्त सुविधाएं शामिल हैं। फिनटेक स्टार्टअप्स ने मोबाइल बैंकिंग सेवाओं के विविधीकरण में भी योगदान दिया है।


मोबाइल बैंकिंग के प्रकार (Types of Mobile Banking)

मोबाइल बैंकिंग की सुविधा वर्तमान समय में विभिन्न प्रकार से प्रदान की जा रही है।  कस्टमर अपनी सहूलियत के अनुसार मोबाइल बैंकिंग का उपयोग किया कर सकता है | कस्टमर्स  लिए मोबाइल बैंकिंग के प्रकार –

  • मोबाइल ऐप्प के द्वारा मोबाइल बैंकिंग

कस्टमर्स की सुविधा के लिए प्रत्येक बैंक ने मोबाइल बैंकिंग एप्लीकेशन की शुरुआत की है।  जिसके द्वारा आसानी से मोबाइल के द्वारा अपने बैंक अकाउंट को एक्सेस किया जा सकता है। मोबाइल एप्लीकेशन के द्वारा बैंकिंग सुविधा को एक्सेस करना बहुत आसान होता है और इसके द्वारा अनेक  प्रकार की सेवाओं का लाभ उठाया जा सकता है। SBI YONO और ICICI  iMOBILE मोबाइल बैंकिंग एप्लीकेशन के अच्छे उदहारण है।

  • मोबाइल पर SMS की सुविधा के द्वारा मोबाइल बैंकिंग

मोबाइल बैंकिंग की सुविधा मोबाइल एप्लीकेशन के साथ साथ SMS के द्वारा भी उपयोग की जा सकती है। इस सेवा के माध्यम से कस्टमर  बैंक को SMS करके अपने बैंक खाते से जुडी हुई डिटेल्स आप प्राप्त कर सकते है। यह सुविधा उन लोगो के लिए उपयोगी है जिनके पास स्मार्टफोन और इंटरनेट की सुविधा नही है।

  • USSD द्वारा मोबाइल बैंकिंग

USSD के जरिये बैंक की बेसिक सुविधाओं का फायदा उठाया जा सकता है।  USSD बैंकिंग सुविधा उन लोगो के लिए उपयोगी है जिनके पास इंटरनेट और स्मार्टफोन की सुविधा नही है। USSD के जरिये मुख्य रूप से बैलेंस की जानकारी , बैलेंस ट्रांसफर आदि जैसी सुविधाओं का फायदा उठाया जा सकता है।

मोबाइल बैंकिंग सुविधाएं  ( Mobile Banking facilities )

मोबाइल बैंकिंग का उपयोग करके कस्टमर्स विभिन्न प्रकार की सेवाओं का फायदा उठा सकते है जैसे की –

  • अकाउंट एक्सेस

मोबाइल बैंकिंग के जरिये कोई भी कस्टमर आसानी से अपना बैंक अकाउंट एक्सेस करके जानकारी प्राप्त कर सकता है।  इसमें उसे किसी भी प्रकार की कोई समस्या नही आती है। इसके अतिरिक्त कस्टमर को अपना अकाउंट एक्सेस करने के लिए बैंक जाने की आवश्यकता नही होती है।

  • बैलेंस चेक

मोबाइल बैंकिंग की सुविधा का उपयोग करके आसानी से कस्टमर अपना बैंक बैलेंस चेक कर सकते है। इसके अतिरिक्त अपनी ट्रांसक्शन हिस्ट्री भी जान सकते है।

  • स्टेटमेंट

मोबाइल बैंकिंग के जरिये ई स्टेटमेंट भी प्राप्त की जा सकती है। जिससे की कस्टमर अपने अकाउंट में होने वाले सभी क्रेडिट और डेबिट के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते है।

  • पासबुक

मोबाइल बैंकिंग के आने के बाद कस्टमर को बार बार बैंक जाकर अपनी पासबुक अपडेट करवाने की आवश्यकता नही होती है।  कस्टमर अपनी सुविधा अनुसार कभी भी अपनी ई पासबुक देख सकते है और अपने बैंक अकाउंट की जानकारी प्राप्त कर सकते है।

  • ट्रांसक्शन की सुविधा

मोबाइल बैंकिंग के माध्यम से ऑनलाइन ट्रांसक्शन की सुविधा उपलब्ध है। कस्टमर जब चाहे तब मोबाइल बैंकिंग का उपयोग करके एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट पैसे ट्रांसफर कर सकते है। इसके अतिरिक्त सभी प्रकार के बिल की पेमेंट भी कर सकते है।

  • इन्वेस्टमेंट

मोबाइल बैंकिंग के जरिये फिक्स्ड डिपोसिट , म्यूच्यूअल फंड्स आदि जैसी सुविधाओं में पैसे इन्वेस्ट किये जा सकते है।  कस्टमर अपनी सुविधा अनुसार इन सेवाओं में पैसे इन्वेस्ट कर सकते है।

  • अन्य सेवाएं

इसके अतिरिक्त मोबाइल बैंकिंग के जरिये पास के एटीएम की जानकारी प्राप्त करना , अपनी ब्रांच की जानकारी प्राप्त करना , चेक बुक आर्डर करना , शिकायत करना आदि जैसी सुविधाओं का उपयोग भी किया जा सकता है।

  • 24 x 7 की सुविधा

बैंक अपने कस्टमर्स के लिए नियमित कार्य के घंटो में ही खुला रहता है।  इसके बाद कस्टमर बैंक नही जा सकते है।  वही मोबाइल बैंकिंग की सुविधा 24 x 7 के लिए उपलब्ध होती है।  जिससे की कस्टमर कभी भी अपनी सहूलियत के अनुसार मोबाइल बैंकिंग का उपयोग करके बैंक की सुविधा प्राप्त कर सकता है।

मोबाइल बैंकिंग कैसे शुरू करें  (How to start Mobile Banking)

मोबाइल बैंकिंग की सुविधा अपने फ़ोन पर शुरू करना बहुत आसान है।  मोबाइल बैंकिंग की सुविधा शुरू करने के लिए सबसे पहले बैंक में जाकर मोबाइल बैंकिंग एप्लीकेशन की जानकारी प्राप्त करें और मोबाइल बैंकिंग के लिए रजिस्टर करें।  इसके बाद कुछ आसान स्टेप्स फॉलो करके आसानी से मोबाइल बैंकिंग की शुरुआत की जा सकती है –

  • स्टेप – 1 मोबाइल बैंकिंग एप्लीकेशन इंस्टाल करना-मोबाइल बैंकिंग की सुविधा शुरू करने के लिए सबसे पहले अपने फ़ोन में मोबाइल बैंकिंग एप्लीकेशन को इंस्टाल करें।
  • स्टेप -2 रजिस्ट्रेशन-मोबाइल बैंकिंग एप्लीकेशन इनस्टॉल करने के बाद आवश्यक जानकारी भरकर रजिस्ट्रेशन करें।
  • स्टेप – 3 MPIN सेट करें-मोबाइल बैंकिंग एप्लीकेशन में रजिस्ट्रेशन करने के बाद आपको मोबाइल पिन सेट करना होगा। मोबाइल बैंकिंग के सुरक्षात्मक उपयोग के लिए आप अपनी सुविधा अनुसार पिन सेट करें और इसके बाद आप मोबाइल बैंकिंग का उपयोग कर सकते है।

मोबाइल बैंकिंग कैसे काम करती है? (How Mobile Banking Works)

मोबाइल बैंकिंग वित्त प्रबंधन, सुविधा और लचीलापन प्रदान करने के लिए एक अनिवार्य उपकरण बन गया है। मोबाइल बैंकिंग कैसे संचालित होती है, इस रहस्य को उजागर करने के लिए, हम मोबाइल बैंकिंग सेवाओं तक पहुंच के प्रमुख पहलुओं, संभावित लेनदेन के प्रकार और इन लेनदेन की सुरक्षा के लिए सुरक्षा उपायों का पता लगाएंगे।

1.मोबाइल बैंकिंग सेवाओं तक पहुंच

  • A. मोबाइल बैंकिंग ऐप डाउनलोड करें: मोबाइल बैंकिंग का प्राइमरी गेटवे आपके बैंक द्वारा प्रदान किया गया एक समर्पित मोबाइल एप्लिकेशन है। उपयोगकर्ता इस ऐप को अपने डिवाइस के ऐप स्टोर (जैसे, ऐप्पल ऐप स्टोर या गूगल प्ले स्टोर) से डाउनलोड कर सकते हैं। एक बार डाउनलोड होने के बाद ऐप को इंस्टॉल और रजिस्टर करना होगा।
  • B. पंजीकरण और प्रमाणीकरण: पंजीकरण प्रक्रिया के दौरान, उपयोगकर्ता आमतौर पर अपने खाते की जानकारी प्रदान करते हैं और उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड जैसे सुरक्षित लॉगिन क्रेडेंशियल बनाते हैं। कुछ बैंकों को सुरक्षा बढ़ाने के लिए फिंगरप्रिंट या चेहरे की पहचान जैसी अतिरिक्त प्रमाणीकरण विधियों की भी आवश्यकता हो सकती है।
  • C. लॉग इन करना: पंजीकरण के बाद, उपयोगकर्ता अपने सूचना या बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण का उपयोग करके मोबाइल बैंकिंग ऐप में लॉग इन कर सकते हैं। इससे उन्हें अपने खातों और बैंकिंग सेवाओं तक पहुंच मिलती है।
  • D. ऐप को नेविगेट करना: मोबाइल बैंकिंग ऐप आम तौर पर खाता शेष, लेनदेन इतिहास देखने और विभिन्न वित्तीय लेनदेन करने के विकल्पों के साथ एक उपयोगकर्ता-अनुकूल इंटरफ़ेस प्रदान करता है। उपयोगकर्ता इन सुविधाओं के माध्यम से आसानी से नेविगेट कर सकते हैं।

Read

2.मोबाइल बैंकिंग के लेनदेन के प्रकार

मोबाइल बैंकिंग वित्तीय लेनदेन की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करती है जिसे आपके मोबाइल डिवाइस के माध्यम से आसानी से संचालित किया जा सकता है:

  • खाते की शेष राशि की जाँच करना: उपयोगकर्ता वास्तविक समय में अपने खाते की शेष राशि की जाँच कर सकते हैं, जिससे उन्हें अपनी वित्तीय स्थिति के बारे में तत्काल जानकारी मिल सकती है।
  • फंड ट्रांसफर करना: फंड को विभिन्न खातों के बीच, एक ही बैंक के भीतर और बाहरी खातों दोनों में स्थानांतरित किया जा सकता है। इसमें एकमुश्त स्थानांतरण और आवर्ती भुगतान स्थापित करना शामिल है।
  • बिलों का भुगतान: मोबाइल बैंकिंग ऐप्स उपयोगकर्ताओं को इलेक्ट्रॉनिक रूप से बिलों का भुगतान करने की अनुमति देते हैं, जिससे उपयोगिता बिल, क्रेडिट कार्ड भुगतान और अन्य आवर्ती खर्चों का निपटान करना आसान हो जाता है।
  • मोबाइल चेक जमा: कई ऐप उपयोगकर्ताओं को केवल चेक के आगे और पीछे की तस्वीरें लेकर चेक जमा करने की अनुमति देते हैं। यह सुविधा भौतिक बैंक शाखा में जाने की आवश्यकता को समाप्त कर देती है।
  • दूरस्थ खाता प्रबंधन: उपयोगकर्ता अपने मोबाइल बैंकिंग ऐप के माध्यम से नए खाते खोल सकते हैं, ऋण के लिए आवेदन कर सकते हैं और निवेश निर्णय ले सकते हैं।
  • निवेश और पोर्टफोलियो प्रबंधन: कुछ ऐप्स निवेश पर नज़र रखने, पोर्टफोलियो प्रबंधित करने और स्टॉक ट्रेड निष्पादित करने के लिए टूल प्रदान करते हैं।
  • ATM लोकेटर: मोबाइल बैंकिंग ऐप्स में अक्सर ऐसी विशेषताएं शामिल होती हैं जो उपयोगकर्ताओं को अपने बैंक के नजदीकी एटीएम या शाखाओं का पता लगाने में मदद करती हैं।

3.मोबाइल बैंकिंग में सुरक्षा उपाय-

मोबाइल बैंकिंग उपयोगकर्ता डेटा और वित्तीय संपत्तियों की सुरक्षा के लिए सुरक्षा पर ज़ोर देती है:

  • बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण: कई मोबाइल बैंकिंग ऐप फिंगरप्रिंट पहचान या चेहरे की पहचान जैसी बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण विधियां प्रदान करते हैं, जो अत्यधिक सुरक्षित और सुविधाजनक हैं।
  • सिक्योर सॉकेट लेयर (एसएसएल): एसएसएल प्रोटोकॉल यह सुनिश्चित करते हैं कि मोबाइल डिवाइस और बैंक के सर्वर के बीच आदान-प्रदान किया गया डेटा सुरक्षित और एन्क्रिप्टेड रहे।
  • इन-ऐप अलर्ट: उपयोगकर्ताओं को खाता गतिविधि के लिए वास्तविक समय की सूचनाएं प्राप्त होती हैं, जिससे उन्हें किसी भी अनधिकृत लेनदेन की निगरानी करने की अनुमति मिलती है।
  • रिमोट डिवाइस निष्क्रियकरण: खोए या चोरी हुए डिवाइस के मामले में, उपयोगकर्ता अनधिकृत पहुंच को रोकने के लिए अपने मोबाइल बैंकिंग एक्सेस को दूरस्थ रूप से निष्क्रिय कर सकते हैं।
  • नियमित अपडेट: सुरक्षा पैच और संवर्द्धन से लाभ उठाने के लिए मोबाइल बैंकिंग ऐप को अपडेट रखना आवश्यक है।

मोबाइल बैंकिंग का उपयोग करते समय किन बातों का ध्यान रखें

  • मोबाइल बैंकिंग का इस्तेमाल करते समय सदैव एक सुरक्षित इंटरनेट नेटवर्क का उपयोग करें। जिससे की आपको कोई असुविधा न हो और आपके बैंक से जुडी हुई जानकारी किसी से साथ साझा न हो सके।
  • मोबाइल बैंकिंग का उपयोग करते समय पुश मेसेज नोटिफिकेशन के लिए जरूर सब्सक्राइब करें।  जिससे की आपको बैंक से जुडी हुई सभी सूचना मिल सके। इसके अतिरिक्त आपके बैंक अकाउंट में होने वाली हर गतिविधि की सूचना भी आपको मिल सके।
  • आप ध्यान रखें की बैंक कभी भी कोई लिंक नही भेजता है तो कभी भी किसी भी प्रकार के लिंक पर क्लिक न करें।
  • मोबाइल बैंकिंग का उपयोग करते समय ध्यान रखें की आप मोबाइल बैंकिंग का उपयोग सदैव अपने फ़ोन में ही करें।
  • मोबाइल बैंकिंग का पिन कभी भी किसी के साथ साझा न करें।

FAQs-Mobile Banking Kya Hai

मैं मोबाइल बैंकिंग कैसे आरंभ करूं?

मोबाइल बैंकिंग शुरू करने के लिए, अपने डिवाइस के ऐप स्टोर से अपने बैंक का आधिकारिक मोबाइल ऐप डाउनलोड करें, एक खाते के लिए पंजीकरण करें और सेटअप के लिए दिए गए निर्देशों का पालन करें।

मैं मोबाइल बैंकिंग की मदद से क्या कर सकता हूँ?

मोबाइल बैंकिंग आपको अपने बैंक की पेशकश के आधार पर खाते की शेष राशि की जांच करने, धनराशि स्थानांतरित करने, बिलों का भुगतान करने, चेक जमा करने, एटीएम ढूंढने, लेनदेन इतिहास देखने और यहां तक ​​कि निवेश करने में भी सक्षम बनाता है।

क्या मोबाइल बैंकिंग सुरक्षित है?

हाँ, मोबाइल बैंकिंग को आम तौर पर सुरक्षित माना जाता है। बैंक आपके डेटा और लेनदेन की सुरक्षा के लिए मजबूत एन्क्रिप्शन, बहु-कारक प्रमाणीकरण और सुरक्षा उपायों का उपयोग करते हैं। हालाँकि, सुरक्षा संबंधी सर्वोत्तम प्रथाओं का पालन करना और अपने डिवाइस और ऐप को अपडेट रखना आवश्यक है।


Latest Posts


Check Also

What is ChatGPT and its updated version in Hindi

What is ChatGPT and its updated version in Hindi

अगर आप डिजिटली थोड़े से भी एक्टिव है तो आपने जरूर सुना होगा ChatGPT के …

Leave a Reply